Tuesday, 19 October 2010

अब एक बुजुर्ग ने देश की धज्जिया उड़ाई

लोग झूठी प्रसंशा पाने के लिए अब कुछ भी करने से परहेज नहीं कर रहे है, एक बुजुर्ग और कई बार संसद रह चुके नेता के द्वारा इस प्रकार की गतिया इस्तर की हरकत बहुत ही नन्दनिया है.
अमर उजाला 

तिरंगा केक काटने में सपाई फंसे
हरमोहन सिंह के जन्मदिन पर मनाया गया समारोह
       पूर्व सांसद चौधरी हरमोहन सिंह यादव के जन्मदिन ‘शौर्य दिवस’ पर सोमवार को तिरंगा केक काटना सपाइयों को महंगा पड़ गया। राष्ट्रीय ध्वज के अपमान के आरोप में अज्ञात के खिलाफ राष्ट्रीय ध्वज अपमान निवारण अधिनियम के तहत ग्वालटोली थाने में परमट चौकी इंचार्ज ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। साथ ही बिना इजाजत सार्वजनिक रूप से जन्मदिन मनाने और धारा 144 के उल्लंघन की भी कार्रवाई हुई है।
मर्चेंट चैंबर सभागार में जन्म दिन समारोह मनाया गया। इसमें हरमोहन सिंह ने तिरंगा केक काटा। शिवपाल सिंह यादव, इरफान सोलंकी, जितेंद्र बहादुर सिंह ने भी उनका साथ दिया। तिरंगा केक देखकर चखचख तो मचने ही लगी थी, तभी किसी चैनल ने यह खबर चला दी फिर लखनऊ से पूछताछ शुरू हो गई। जिलाधिकारी मुकेश कुमार मेश्राम ने बताया कि गृह विभाग के प्रमुख सचिव का फोन आया जिसके बाद उन्होंने थाना ग्वालटोली और एसीएम को जांच के आदेश दिए। मामला सही पाए जाने पर परमट चौकी इंचार्ज डीपी सिंह ने अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट कराई। विवेचना में नाम खुलने पर नामजद होगी रिपोर्ट।
धारा 144 का उल्लंघन करना भी माना गया. 

दैनिक जागरण

पूर्व सांसद हरमोहन सिंह यादव के जन्मदिन पर राष्ट्रीय ध्वज जैसा केक काटे जाने के मामले में समाजवादी पार्टी मुश्किल में फंस गयी है। जिलाधिकारी मुकेश कुमार मेश्राम के आदेश पर पुलिस ने घटना की जांच कर ग्वालटोली थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। मर्चेट चेंबर सभागार में सोमवार को वरिष्ठ सपा नेता हरमोहन सिंह यादव के 91 वें जन्म दिन पर कार्यकर्ता सचिन तांगड़ी द्वारा भेंट किये गये केक को यादव के साथ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शिवपाल सिंह यादव ने काटा था। लेकिन केक को राष्ट्रीय ध्वज जैसा बताये जाने से मामला तूल पकड़ गया है।





No comments:

Post a Comment